अशोक गेहलोत की राजनैतिक पारी खत्म करने में लगा है पायलट खेमा?

सचिन पायलट गुट लगा है, गहलोत कि जमीन कमजोर करने में,नहीं देना चाहते गहलोत को मुख्यमंत्री बनने कोई भी मौका

राजस्थान में मतदान को चंद दिन शेष बचे है, और नेताओं कि भागमभाग तेज होती जा रही है।

कांग्रेस में मुख्यमंत्री को लेकर रामेश्वर डूडी ,पायलट ,गहलोत और गाहे-बगाहे सीएम कि रेस सीपी जोशी भी नजर आ रहे है।

सूत्रों के हवाले से खबर है कि सीएम कि कुर्सी कि असली जंग पायलट और गहलोत के बीच रहने वाली है।और ऐसे में पायलट का खैमा गहलोत कि घेराबंदी करने में लगा है।

पायलट ने गहलोत कि जमीन कमजोर करने के लिए पार्टी आलाकमान से गहलोत को राजस्थान से दूर रखने कि लगातार मांग कि है।

हाल ही में टिकट वितरण के दौरान पायलट,गहलोत और डूडी ने अपने करीबियों को टिकट दिलवाने के लिए ताल ठोकी थी उसमें पायलट का दबदबा गहलोत से ज्यादा देखने को मिला, सूत्रों कि माने तो पायलट अपने चहेतों को टिकट दिलानें में ज्यादा कामयाब रहे है।

गहलोत को उनकी विधानसभा सीट पर हराने के लिए पायलट खैमा लगातार सक्रिय है।और खबर तो यहाँ तक है कि पायलट, डूडी, सीपी जोशी संगठित रुप से गहलोत का पत्ता काटना चाहते है।

खैर, सियासत में कोई किसी का सगा नहीं होता और ऐसे में अबतक गहलोत जैसा अपने प्रतिद्वंद्वीयो के साथ करते आऐ है,अब वैसा उनके साथ होता हुआ दिख रहा है।

Disclaimer: The views and opinions expressed in this article are those of the authors and do not necessarily reflect the official policy or position of SatyaVijayi.

Comments

comments