बेटे वैभव की हार के ख्यालों से बौखलाए अशोक गहलोत सभी कार्य छोड़ कर रहे हैं गजेन्द्र सिंह शेखावत के खिलाफ बयानबाजी

अपने बेटे वैभव गहलोत के जोधपुर से संभावित हार से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बोखलाए नजर आ रहे हैं। बेटे के लिए विजय सुनिश्चित करने अब अशोक गहलोत सारे काम छोड़ खुद ही मैदान में उतर आये हैं। और अब वह लगातार अपने बेटे के प्रतिद्वंद्वी गजेन्द्र सिंह शेखावत के खिलाफ बयानबाजी कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हाल ही में कहा है कि केंद्रीय मंत्री और जोधपुर से भाजपा के प्रत्याशी गजेंद्र सिंह शेखावत अपनी संभावित हार से परेशान है। हालाँकि यह समझना मुश्किल है कि गहलोत को आखिर ऐसा क्यों लगता है। राजनीतिक जानकारों के मुताबिक तो जोधपुर से वैभव गहलोत के मुकाबले गजेन्द्र सिंह शेखावत आगे नजर आ रहे हैं। गहलोत ने जबरदस्ती मोदी लहर को भी नकारने की कोशिश की। गहलोत ने कहा कि इस बार कोई लहर नहीं है, बल्कि मोदी के खिलाफ ही लहर चल रही है। इसके चलते राजस्थान से मोदी के चारों केंद्रियों मंत्रियों पर भी हार का खतरा मंडरा रहा है।

गहलोत ने कहा कि जैसे उन्होंने पहले पूर्व सीएम राजे की यात्रा को विदाई यात्रा कहा था, इसी तरह यह लोकसभा चुनाव भी मोदी की विदाई यात्रा वाला चुनाव है। ऐसे में अगर जानकारों कि माने तो गहलोत गर्मागर्म बयानबाजी करके अपने काडर का जोश बनाए रखना चाहते हैं। दरअसल, वैभव गहलोत के बहाने अशोक गहलोत की अपनी प्रतिष्ठा दांव पर लगा हुआ है।

Comments

comments