गजेन्द्र सिंह शेखावत के डर से अब अशोक गहलोत ने खुद सम्भाला मोर्चा, करेंगे जोधपुर का दौरा

जोधपुर लोकसभा सीट से कांग्रेस की हालत कमजोर नजर आ रही है। इसी बीच राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आखिरकार खुद ही मोर्चा सम्भालने का निश्चय किया है।

दरअसल, जोधपुर से अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत चुनाव लड़ रहे हैं और यहां अगर उनकी हार होती है तो इससे अशोक गहलोत की प्रतिष्ठा को एक बहोत बड़ा धक्का लगेगा। जोधपुर से अब तक भाजपा प्रत्याशी और मौजूदा सांसद गजेन्द्र सिंह शेखावत ही आगे चलते हुए नजर आ रहे हैं। शायद यही कारण है कि अब और किसी पर भरोसा न रखते हुए गहलोत खुद ही मैदान में उतरने का फैसला लिया है।

२० अप्रैल को जोधपुर आ सकते हैं अशोक गहलोत। सूत्रों कि माने तो गहलोत जोधपुर के पांच विधानसभा क्षेत्रों का दौरा करेंगे और जनसंपर्क स्थापित करने का प्रयास करेंगे। जोधपुर शहर,सूरसागर,सरदारपुरा,लोहावट और शेरगढ़ में अपने बेटे वैभव और बड़े कांग्रेसी नेताओं के साथ अशोक गहलोत दौरा करेंगे।

सूत्रों कि माने तो कांग्रेस गजेन्द्र सिंह शेखावत से खासी घबराई हुई है। अब अशोक गहलोत ने अपने बेटे के राजनीतिक जीवन को बचाने के लिए पूरी शक्ति लगाना चाह रहे हैं। कहीं न कहीं अशोक गहलोत को यह भी डर है कि अगर वैभव हार जाते हैं तो राजस्थान कांग्रेस मे उनका स्थान कमजोर हो जाएगा।

Comments

comments