अपने इन कार्यों के कारण जोधपुर की जनता के चहेते हैं गजेंद्र शेखावत

लोकतांत्रिक व्यवस्था में ऐसा माना जाता है कि केन्द्रीय सरकार के जनहितकारी कार्यों को जनमानस तक पहुंचाने मे सांसदों की एक महत्वपूर्ण भूमिका होती है। किसी संसदीय क्षेत्र के विकास को देख वहां के सांसद के बारे में एक धारना बनाई जाती है। क्यूंकि लोकसभा चुनाव करीब आ रहे हैं तो देखते हैं हमारे देश के लोकसभा क्षेत्रो में से एक जोधपुर को। यहां के सांसद है भाजपा नेता गजेन्द्र सिंह शेखावत। इस साल दोबारा शेखावत इसी सीट से खड़े होगें। तो आइये देखते हैं आखिर जोधपुर में कितना काम हुआ है पिछले पांच सालों में।

जोधपुर में २,०३,६४५ परिवारो के अपने घर का सपना प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत हुआ। पर क्या सिर्फ घर काफी है? घर में तो एलपीजी गैस भी चाहिए। उज्जवला योजना के तहत सिर्फ जोधपुर में २,३७,००० महिलाओं को एलपीजी गैस मिला। महिलाओं के लिए गैस के अलावा मोदी सरकार की सबसे बड़ी योजना रही है स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालयों का निर्माण। गजेन्द्र सिंह शेखावत के संसदीय क्षेत्र जोधपुर में २,६४,९३९ नए शौचालयों का निर्माण किया गया है। गजेन्द्र, जो स्वयं कृषि संबंधी परिवार से आते हैं उन्होंने किसानों का खास ख्याल रखा है।

Image result for gajendra singh shekhawat jodhpur

जोधपुर के ३,६४,०७० किसानों को सॉयल हेल्थ कार्ड बांट उनका हाथ मजबूत करने का काम किया है गजेन्द्र सिंह शेखावत ने। सबका साथ सबका विकास के मंत्र पर काम करते हुए जोधपुर में ७४ कि. मि. रिंग रोड का निर्माण हुआ है। इसके अलावा १०१८ कि. मी. ग्रामीण सड़क का भी निर्माण हुआ है। युवाओं के लिए खनन नियमो मे छूट देकर २,५०,००० नए रोजगार जोधपुर में दिया गया।

५०,६६८ युवाओं को ऋण देकर स्वरोजगार का अवसर प्रदान किया गया। यह तो हो गई बात क्या हुआ, पर अगर गजेन्द्र सिंह शेखावत दोबारा चुन कर आते हैं तो क्या करेंगे? AIIMS के निर्माण से मुफ्त में जोधपुर और मारवाड़ क्षेत्र के लोगों को मिलेगा विश्वस्तरीय इलाज। एयरपोर्ट के निर्माण से ८६,००० युवाओं को मिलेगा रोजगार।

Comments

comments