केदारनाथ पहुंचे PM मोदी और इस लड़की के बीच जो हुआ वो वाकई चौंका देने वाला है

केदारनाथ : बाबा केदार के दर्शनों का पुण्य और उस पर पांच साल की बेटी अनिविका को मिला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्नेह। लेफ्टिनेंट पीआर लड्ढा व उनकी पत्नी श्वेता लड्ढा के लिए इससे बड़ा सुखद संयोग और क्या हो सकता था। उन्हें तो मानो तत्काल दर्शनों का प्रतिफल मिल गया। दोनों इस कदर गद्गद थे कि खुशी छुपाये नहीं छुप रही थी। कहने लगे, हमारे लिए यह ऐसा पल है, जिसे जीवन में कभी नहीं भुला पाएंगे।

6-कुमाऊं रेजीमेंट के लेफ्टिनेंट कर्नल पुणे (महाराष्ट्र) निवासी पीआर लड्ढा की तैनाती वर्तमान में रुद्रप्रयाग में है। इसी रेजीमेंट का बैंड केदारधाम के कपाट खुलने और बंद होने पर बाबा की उत्सव डोली की अगुआई करता है। बैंड दल के साथ मंगलवार को कर्नल लड्ढा भी परिवार सहित केदारधाम पहुंच गए थे। बुधवार सुबह धाम के कपाट खुलने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी बाबा के दर्शनों को पहुंचे। यात्रियों के बीच जाकर लौटते हुए मंदिर के पास जैसे ही मोदी की नजर बेटी गोद में लड्ढा दंपती पर पड़ी, उनके कदम ठिठक गए।

प्रधानमंत्री लड्ढा दंपति के पास गए, लेफ्टिनेंट कर्नल लड्ढा की गोद से बेटी अनिविका को लिया, सिर पर हाथ फेरकर उसे दुलारा और फिर स्नेह का चुंबन जड़ दिया। उन्होंने अनिविका से बातें भी की। पूछा, बेटा आपका नाम क्या है, कहां रहते हो, किस कक्षा में पढ़ते हो वगैरह-वगैरह। साथ ही लड्ढा दंपती से भी कुशलक्षेम पूछी। प्रधानमंत्री से हुई इस अप्रत्याशित मुलाकात से लड्ढा दंपती के चेहरे खिल उठे।

श्रीमती लड्ढा ने बताया कि खुशी के इस पल को बयां करने के लिए उनके पास शब्द नहीं हैं। कहने लगीं, इस पल को जीवन में कभी भुलाया नहीं जा सकता। यह बाबा के आशीर्वाद से ही संभव हुआ, जो बिटिया के माध्यम से प्रधानमंत्री को हमारे करीब ले आए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केदारधाम में 6-कुमाऊं रेजीमेंट के जवान अखिलेश सिंह व राकेश सिंह से भी मुलाकात की। पीएम ने उनके हालचाल पूछे और दोनों से हाथ भी मिलाया। दोनों ने यादगार के तौर पर पीएम के साथ सेल्फी भी खींची। पीएम से मिलकर दोनों इस कदर प्रफुल्लित थे, मानो सारे जहां की खुशी पा ली है।

Comments

comments