जोधपुर रैली से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस पर साधा निशाना, वोट बैंक के लिए आतंकवाद को छूट देने का लगाया आरोप

जोधपुर से सोमवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस पर तिखा हमला बोला। आतंकवाद पर कांग्रेस को लपेटे में लेते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ”आपने इस चौकीदार को 2014 में अवसर दिया। आज परिणाम आपके सामने हैं। अब कहां गयी वो पाकिस्तान की हेकड़ी। आज भारत आतंकवादियों को उनके घर में घुसकर मारता है। ये फर्क होता है एक नेकनीयत मजबूत सरकार और बदनीयत वाली मजबूर सरकार के बीच जहां सवा सौ करोड़ देशवासी कांपते रहते थे।”

उन्होंने कहा, ”आतंकवाद को काबू करने की क्षमता हममें पहले भी थी, लेकिन वोट बैंक को ध्यान में रखके देश पर राज कर रही सरकार में वह इच्छाशक्ति नहीं थी।” मोदी ने रविवार को श्रीलंका में हुए श्रृंखलाबद्ध बम धमाकों की ओर इशारा करते हुए कहा, ”आज हमारे आसपास आतंक की फैक्टरियां चल रही हैं। पूजा पाठ में जुटे लोगों, घूमने फिरने गये लोगों को मार रहे हैं। श्रीलंका में क्या हुआ पूरी दुनिया ने देखा है। लेकिन कांग्रेस और उसके रागदरबारी कहते हैं कि आतंकवाद कोई मुद्दा ही नहीं है।

मोदी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस के लिए आतंकवाद दस साल पहले बड़ा मुद्दा था लेकिन उसने अपने वोट बैंक के लिए उसे चर्चा से ही गायब कर दिया। उन्होंने कहा कि आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान ने दुनियाभर में भारत को ही बदनाम किया। मोदी ने कहा, ”पाकिस्तान ने दुनियाभर में भारत को ही बदनाम किया। पाकिस्तान भारत के खिलाफ बोलता रहा। दुनिया को पाकिस्तान सच, भारत झूठ लगने लगा। फिर भी कांग्रेस सरकार, उनके महामिलावटी साथी सोते रहे। धमाके होते गए, निर्दोष लोगों की जान जाती रही लेकिन कांग्रेस वोटबैंक की राजनीति करती रही।”

मोदी ने कहा, ”हमारे पास करोड़ों लोगों की शक्ति पहले भी थी। लेकिन उनमें आत्मविश्वास भरने वाली सरकार नहीं थी। हमारे पास संसाधन पहले भी थे लेकिन पहले देश के संसाधनों का शोषण करने वाली भ्रष्ट सरकार थी। संसाधनों का विकास करने वाली सरकार नहीं थी।” मोदी ने कहा, ”सत्ता की राजनीति करने वाले कांग्रेस जैसे राजनीतिक दलों के लिए उनका आज बड़ा महत्वपूर्ण होता है, वे अपने आप की चिंता करते हैं। इन दलों को लगता है कि देश का वोटर उन्हें आज की घटनाओं, कठिनाइयों व वायदों के संदर्भ में ही आंकता है। आने वाले कल के प्रति उनका कोई दायित्व नहीं है।”

उन्होंने कहा,”… लेकिन मेरे लिए राष्ट्र निर्माण के कार्य में आज का ही नहीं कल का भी उतना ही महत्व है। अपनी आने वाली पीढियों को एक सुरक्षित व मजबूत भारत देने के लिए हमें अपने आज को, अपने वर्तमान को कल के लिए समर्पित भी करना है, सक्षम भी बनाना है। मैं भी इसी सोच के साथ आगे बढ़ रहा हूं।”

Comments

comments