तेलंगाना चुनावों के लिए कॉंग्रेस ने निकाला पाकिस्तान परस्त मैनिफेस्टो! क्या राजस्थान में भी इसी मंशा से बनाना चाहते सरकार?

तेलंगाना में कांग्रेस का घोषणा पत्र बडा ही आश्चर्यजनक है, जिस कांग्रेस पर विपक्ष द्धारा अबतक मुस्लिम प्रेमी और मुस्लिम हितैषी होने के जो आरोप लगते रहे है, वो तेलंगाना के घोषणा पत्र में खुलमखुला सामने आ गये है। तेलंगाना कांग्रेस का घोषणा पत्र कांग्रेस का असली चरित्र दर्शाता है।

1.ईसाईयों और मुस्लिमों को अल्पसंख्यक का दर्जा देकर सत्ता में आने पर तुष्टिकरण को बढ़ावा देने का वायदा दिया है।

2.मुस्लिम महिलाओं को युवाओं को लोन में 80% की सब्सिडी,विदेशों में पढ़ने के लिए 20 लाख तक का अनुदान देने का वादा किया है।

3.उर्दू को दूसरी राजकीय भाषा का दर्जा तेलंगाना लोक सेवा आयोग में अनिवार्य अल्पसंख्यक सदस्य की नियुक्ति करना।

4.निजी सेक्टर में मुस्लिम युवाओं को रोजगार नहीं देने पर कार्यवाही तक होगी।

5.किसी भी अल्पसंख्यक अपराधीकरण एनकाउंटर पर मौत की कठोर जांच औय कार्यवाही होगी।

वही सियासी जानकारों का कहना है की अल्पसंख्यकों के तुष्टिकरण से तेलंगाना में स्वस्थ लोकतंत्र की विभाजन कारी नीतियों के साथ कांग्रेस घोषणा पत्र में स्पष्ट रुप से समाज बाटो और राज करो की नीति पर कार्य कर रही है।

वही बीजेपी ने कहा की तेलंगाना में कांग्रेस का घोषणा पत्र आने के बाद यह बात और पक्की हो गई की कांग्रेस जो इतने सालों से हिन्दुओ को गुमराह करने का स्वागं रच रही थी उसका भांडा फूट गया है।

Comments

comments