क्या अशोक गहलोत पर लगे भ्रष्टाचार के पुराने आरोप ले डूबेंगे पुत्र वैभव को?

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत इस बार जोधपुर से चुनाव लड़ रहे हैं। उनके विरुद्ध भाजपा के गजेंद्र सिंह शेखावत है। जनता और राजनीतिक जानकार दोनों मे ही जोधपुर के चुनाव को लेकर खासा उतसाह दिखाई दे रही हैं। पर कुछ जानकारों ने यह डर भी जताया है कि अशोक गहलोत पर पुर्व में लगते रहे भ्रष्टाचार के कई संगीन आरोप अब वैभव गहलोत के लिए नुकसानदेह हो सकते हैं।

अधिकतर जानकारों का इशारा २०१३ मे गहलोत पर लगे खनन घोटाले के तरफ है जिसके सूत्र इसी जोधपुर से जुड़े थे। दरअसल, २०१३ मे तत्कालीन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर आरोप था कि उन्होंने जोधपुर में अपने नजदीकी चौहान बंधुओं के लिए एक हजार करोड़ रुपए का खनन घोटाला किया है।

तत्कालीन राजस्थान भाजपा के सह प्रभारी किरीट सोमैया का कहना था कि खनन महकमे की ओर से आवंटित खनन क्षेत्र का न तो बेचा जा सकता है, न ही हस्तांतरित किया जा सकता है। फिर भी गहलोत ने अपने नजदीकी, जोधपुर के चौहान बंधुओं को फायदा पहुंचाने के लिए उन्होंने घोटाला किया।

राजनीतिक जानकारो के मुताबिक यह सारे पुराने भ्रष्टाचार के आरोप अब गहलोत पुत्र वैभव को नुकसान पहुंचा सकते हैं। जोधपुर से अपने बेटे को उम्मीदवार बनाकर अशोक गहलोत ने इसे एक प्रतिष्ठा का प्रश्न बना लिया है। अपनी एड़ी चोटी का जोर लगा रहे हैं बेटे को जीताने। पर अगर जानकारो की माने तो जोधपुर से भाजपा प्रत्याशी गजेंद्र सिंह शेखावत आगे चल रहे हैं।

Comments

comments